MP Board Class 9th, 10th Best of Five Scheme 2024-25 : समाप्त होगी बेस्ट ऑफ फाइव योजना 2024-25 से लागू – जाने बड़ा बदलाव

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

  MP Board Class 9th, 10th Best of Five Scheme 2024-25 :  स्कूल शिक्षा विभाग ने पांच साल बाद नवमी दसवी में बेस्ट आफ फाइव को समाप्त कर दिया है। नवमी दसवी में सामान्य गणित व उच्च गणित का विकल्प रहेगा। नवमी दसवी में सतत व्यापक मूल्यांकन की प्रक्रिया लागू रहेगी। इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग ने गुरुवार को आदेश जारी कर दिए हैं। हालांकि बेस्ट आफ फाइव के समाप्त करने के निर्णय को वर्ष 2024-25 से लागू किया जाएगा।

MP Board Class 9th, 10th Best of Five Scheme 2024-25

         दरअसल मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की दसवीं परीक्षा में छह साल पहले वर्ष 2017 में आधे से अधिक फेल हो गए थे। इस संकट से उबरने के लिए स्कूल विभाग के अधिकारियों ने बेस्ट आफ फाइव योजना को लागू कर दिया था। इसमें परीक्षार्थी सभी छह विषय की परीक्षा में शामिल होंगे, लेकिन सर्वाधिक पांच अंक वाले विषयों के नंबर जोड़कर रिजल्ट घोषित किया जाएगा।

जबकि सबसे कम अंक आने वाले विषय को रिजल्ट में शामिल नहीं किया जाएगा। इससे विद्यार्थियों ने अंग्रेजी, गणित व विज्ञान जैसे महत्वपूर्ण विषयों को पढ़ना बंद कर दिया। बेस्ट आफ फाइव लागू होने के बाद दसवीं के वर्ष 2018 के रिजल्ट में काफी सुधार आया। लेकिन इसमें देखने में आया कि विद्यार्थियों ने गणित व अंग्रेजी पर ध्यान देना बंद कर दिया।

Best of five results of last years in class 10th

पिछले सालों में दसवीं की गणित व अंग्रेजी में सबसे ज्यादा विद्यार्थी फेल हुए हैं। गणित, विज्ञान जैसे प्रमुख विषयों में फेल होने के बाद भी विद्यार्थियों के पांच विषयों में पास होने पर पास की अंकसूची जारी की गई। लेकिन इसका नतीजा यह निकला कि यह छात्र आर्मी में भर्ती के लिए अयोग्य हो गए। इसे देखते हुए माशिमं द्वारा पिछले साल भी बेस्ट आफ फाइव को समाप्त करने के शासन को प्रस्ताव भेजा, लेकिन इसे अमान्य कर दिया गया था।

इसे पढ़े :-  MP Board Topper List 2023 Class 10th, 12th District Wise (Out) Merit List PDF

इस बार मंडल की समिति ने दोबारा प्रस्ताव भेजा। जिसके बाद गुरुवार को स्कूल शिक्षा विभाग के उप सचिव प्रमोद सिंह ने नवमी दसवी मे बेस्ट आफ फाइव को समाप्त करने के आदेश जारी कर दिए हैं। बेस्ट आफ फाइव को समाप्त करने का आदेश नवमी-दसवीं में वर्ष 2024-25 से लागू किया जाएगा।

जारी आदेश में कहा गया है कि शिक्षण सत्र 2023-24 से कक्षा 9वीं व 10वीं में सतत व्यापक मूल्यांकन प्रक्रिया लागू की जाएगी। शिक्षण सत्र 2023-24 में कक्षा नवमी व 2024-25 से कक्षा 10वीं में विद्यार्थियों को सामान्य गणित एवं उच्च गणित का विकल्प दिया जाएगा।

इस कारण समाप्त की गई बेस्ट आफ फाइव बेस्ट आफ फाइव प्रणाली के अंतर्गत छह विषयों में यदि विद्यार्थी एक में पास नहीं है, परंतु अंकसूची के अनुसार वह उत्तीर्ण है, तो वह भारत सरकार द्वारा लिए जाने वाला आमी (जीडी) के फार्म को नहीं भर सकता। क्योंकि उस फार्म में छात्रों को दसवी प्रणाली में विज्ञान, गणित एवं हिंदी जैसे विषयों में उत्तीर्ण होना अनिवार्य होता है म में संचालित आईटीआई में भी यदि छात्र गणित व विज्ञान के साथ दसवीं उत्तीर्ण नहीं करता है, तो कई ट्रेडस में प्रवेश के लिए अयोग्य घोषित किया जाता है। छात्र जिस विषय में कमजोर है, उस विषय की पढ़ाई नहीं करता है। ऐसे विषयों में गणित, अंग्रेजी व विज्ञान विषय शामिल है। मुख्य विषयों का महत्व कम हो गया है।

इसे पढ़े :-  MP Board 10th Social Science वार्षिक पेपर 2023 - 50 Important Quetions

दसवीं में पिछले सालों का बेस्ट आफ फाइव का रिजल्ट | Best of five results of last years in class 10th

वर्ष 2023 में दसवीं की अंग्रेजी में 33 फीसदी यानि 2 लाख 66 हजार विद्यार्थी फेल हुए, जबकि गणित में 27 फीसदी यानि 2 लाख 17 हजार व विज्ञान में 28 फीसदी यानि 2 लाख 28 हजार विद्यार्थी फेल हुए थे। माशिमं की दसवी के परिणाम वर्ष 2022 में बेस्ट फाइव से दसवीं की गणित व अंग्रेजी में सवा तीन लाख विद्यार्थी फेल हुए थे।

वर्ष 2019 के दसवीं परिणाम में बेस्ट फाइव के कारण दसवीं की गणित में करीब चार लाख व अंग्रेजी में तीन लाख विद्यार्थी फेल हुए वर्ष 2018 में गणित विषय में 8 लाख 9 हजार 477 विद्यार्थी शामिल हुए। इनका पास प्रतिशत 63.07 रहा सामान्य अंग्रेजी के पेपर में 7 लाख 20 हजार 458 विद्यार्थी शामिल हुए विज्ञान विषय में 8 लाख 8 हजार 611 विद्यार्थी शामिल हुए। इसमें करीब दो लाख विद्यार्थी फेल हुए थे।

2017-18 में लागू हुई थी बेस्ट आफ फाइव योजना

बेस्ट आफ फाइव योजना को 10वीं के परिणाम में सुधार करने के लिए 2017-18 में लागू किया गया था। इस योजना के तहत अगर विद्यार्थी छह विषयों में से पांच विषय में पास हो जाता है और एक विषय में फेल होता है तो भी उसे पास घोषित किया जाता था। इसमें सर्वाधिक अंकों वाले पांच विषयों के नंबर जोड़कर परिणाम घोषित किया जाता था, जबकि सबसे कम अंक आने वाले छठवें विषय को रिजल्ट में शामिल नहीं किया जाता था।

इसे पढ़े :-  10th Science Keshav Sample Papers 2024 - PDF डाउनलोड

डीपीआइ ने भी 2020 में लिखा था पत्र

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

माशिमं को 2020 में लोक शिक्षण संचालनालय(डीपीआइ) ने भी पत्र लिखकर इस योजना को समाप्त करने के बारे में कहा था। तब से इस योजना को समाप्त करने की प्रक्रिया चल रही थी

MP Board Class 9th, 10th Best of Five Scheme 2024-25

Next Post-

UP Board Result 2024: क्या एक साथ जारी होंगे यूपी बोर्ड के रिजल्ट, जानें- पिछले 5 सालों में कब-कब जारी हुए थे नतीजे

MP Board 10th 12th Result 2024 Date : जल्द जारी होंगे एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं के नतीजे

Bio Molecules || 12th Chemistry Notes in Hindi medium PDF

Leave a Reply

error: Content is protected !!